Please enter your e-mail address. We will send your password immediately.

Stories 7 stories
स्त्रीणां दि्वगुण आहारो बुदि्धस्तासां चतुर्गुणा। साहसं षड्गुणं चैव कामोष्टगुण उच्यते।। – चाणक्य की इस नीति के अनुसार महिलाएं खाने के मामले में पुरुषों से ज्यादा तेज होती हैं। इस बात से तात्पर्य यह है कि महिलाओं को मर्दों की तुलना में दोगुना अधिक भूख लगती है। स्वास्थ्य के लिहाज से भी देखे तो यह कहा जाता है कि महिलाओं को पुरुषों की अपेक्षा अधिक कैलोरी की जरूरत पड़ती है। इसलिए महिलाओं को पुरुषों से अधिक भोजन ग्रहण करना चाहिए। – आचार्य चाणक्य अनुसार महिलाएं पुरुषों से ज्यादा समझदार और बुद्धिमान होती हैं। महिलाएं किसी भी काम को बड़े ही चालाकी और बुद्धि से पूरा कर लेती है। चाहे जीवन में कितनी ही कठिनाइयां क्यों ना आ जाए तब भी महिलाएं अपनी बुद्धि के बल पर आगे निकल जाती है। – इस समाज में आमतौर पर पुरुष को ज्यादा पराक्रमी और साहसी माना जाता है। लेकिन चाणक्य नीति इसके बिल्कुल विपरीत है जिसके अनुसार पुरुषों की तुलना में महिलाएं ज्यादा साहस वाली होती हैं। महिलाएं कितनी ही खराब परिस्थिति क्यों ना आ जाए वह वहां डटकर खड़ी रहती हैं। इसलिए महिलाएं पुरुषों से 6 गुना अधिक साहसी होती हैं। – चाणक्य नीति अनुसार महिलाएं अधिक कामुक होती है और महिलाओं में पुरुषों की अपेक्षा देखा जाए तो 8 गुना अधिक काम भावना होती है। यौन संबंध बनाने की उनकी इच्‍छा पुरुषों की तुलना में अति तीव्र होती है। ----------------------------------------------------------------------------- 🚀DM us for Promotions🚀 💷 Instagram IDs Follow - @chankya_niti Follow - @ashu_lyricist1 Follow - @ashu_lyricist ------------------------------------------------------------------------- #chankya_niti #lifequotes #lifequotes #Inspirationalquotes #knowledge #photooftheday #motivationalquotes #positivevibes #comment4comment #comment #viral #insta #likefast #likebackfast #millionairemindset #verifyme #followers #followersfree #followersinstagram #likeforfollowers #chankya_niti_quotes #chankyaquotes #250k #Arthshashtra #tbt #trending #photooftheday #photo #photography #life
Follow - @chankya_niti गुप्त योजना की रक्षा में तत्परता ही किसी भी मानव की सफलता की प्रथम सीढ़ी होती है। -________- जब तक योजना को कार्य रूप में लागू करने का समय नहीं आता तब तक विजय के इच्छुक राजा को प्रयत्न पूर्वक योजना को गुप्त तथा दबाकर ही रखना चाहिए। राजा को यह भी ध्यान में रखना चाहिए कि कभी-कभी मंत्रियों की असावधानी के कारण मदिरापान के फलस्वरूप आयी मूर्छा की अवस्था में, सोते समय की प्रलाप में, संभोग काल में अथवा संभोग की तृप्ति की कामना के समय अथवा अहंकार के मद में गुप्त मंत्रणा एवं योजनाएं कार्य रूप लेने से पहले ही प्रकट हो जाती है अर्थात्‌ गुप्त योजना सभी सामने आ जाती है और इसी कारण वह योजना विफल भी हो जाती है। इसलिए राजा को अपनी योजना गुप्त ही रखनी चाहिए। इसके अतिरिक्त आड़ में छुपकर सुनने वाले, जलपान की व्यवस्था के बहाने भवन के भीतर या बाहर उपस्थित रहने वाले या किसी कारण अपमानित हुए और उपेक्षित व्यक्ति गुप्त रहस्य की भनक पाते ही किसी लालच अथवा लोभ के कारण गुप्त रहस्य को प्रकट कर देते हैं। फतेह राजा को चाहिए कि योजना के सिद्ध होने से पहले वह स्वयं तथा उसके सहयोगी मंत्री मदिरापान, द्यूत- क्रीड़ा (जुआ), व संभोग-क्रिया से दूर रहे और उनके शयन कक्ष में दास-दासियों के प्रवेश की अनुमति भी ना हो। मंत्रणा-कक्ष के आसपास अर्थात् जिस कक्ष में गुप्त योजना बनाई जा रही है उसके आसपास भी किसी को मंडराने की अनुमति नहीं होनी चाहिए। गुप्त योजना की रक्षा में तत्परता ही उसकी सफलता की प्रथम सीढ़ी होती है। अधिकरण 1 प्रकरण 14 अर्थशास्त्र ----------------------------------------------------------------------------- 🚀DM us for Promotions🚀 💷 Instagram IDs Follow - @chankya_niti Follow - @ashu_lyricist1 Follow - @ashu_lyricist ------------------------------------------------------------------------- #chankya_niti #lifequotes #lifequotes #Inspirationalquotes #knowledge #photooftheday #motivationalquotes #positivevibes #comment4comment #comment #viral #insta #likefast #likebackfast #millionairemindset #verifyme #followers #followersfree #followersinstagram #likeforfollowers #chankya_niti_quotes #chankyaquotes #250k #Arthshashtra #tbt #trending #photooftheday #photo #photography #life
Follow - @chankya_niti ये तीन काम आपकी जिंदगी बना भी सकते हैं और बिगाड़ भी सकते हैं 1. आचार्य चाणक्य कहते हैं कि अपने रहस्य या निजी जिंदगी की बातें प्रत्येक व्यक्ति के साथ साझा ना करें। यदि आप ऐसा करते हैं तो वह व्यक्ति आप को बर्बाद करने के लिए किसी भी समय आप पर या आपके परिवार पर शारीरिक या मानसिक रूप से हमला कर सकता है। 2. किसी भी कार्य की शुरूआत करने से पहले उस कार्य के बारे में जानकारी प्राप्त कर लें, क्योंकि कई बार हमें कोई कार्य अच्छा लगता है लेकिन उसी की वजह से हम फंस जाते हैं। 3. आचार्य चाणक्य कहते हैं कि यदि लोग आप पर हंस रहे हैं और आपको आगे बढ़ने से रोक रहे हैं इसका मतलब यह है कि आप उन लोगों से अलग और अच्छा कार्य कर रहे हैं इसलिए आपको ऐसे लोगों की बातें नहीं सुननी चाहिए जो आपको पीछे धकेलने का काम करे। ----------------------------------------------------------------------------- 🚀DM us for Promotions🚀 💷 Instagram IDs Follow - @chankya_niti Follow - @ashu_lyricist1 Follow - @ashu_lyricist ------------------------------------------------------------------------- #chankya_niti #lifequotes #lifequotes #Inspirationalquotes #knowledge #photooftheday #motivationalquotes #positivevibes #comment4comment #comment #viral #insta #likefast #likebackfast #millionairemindset #verifyme #followers #followersfree #followersinstagram #likeforfollowers #chankya_niti_quotes #chankyaquotes #250k #Arthshashtra #tbt #trending #photooftheday #photo #photography #life
नगर निगम अध्यक्ष अर्थात म्युनिसिपल कमिश्नर को भी कलक्टर के समान ही नगर के प्रशासन और प्रबंधन व्यवसाय में भागीदार होना चाहिए। उसे देखना चाहिए कि प्रत्येक गोप उत्तम स्तर के 10, मध्यम स्तर के 20 और अधम स्तर के 40 कुलों के प्रबंध को किस प्रकार संभालता है। वह उन परिवारों के स्त्री-पुरुषों की संख्या, उनके नाम, वर्ण, गोत्र, कार्य और आय-व्यय के पूरे विवरण की जानकारी रखता है या नहीं। इसी प्रकार नगर निगम अध्यक्ष को यह भी देखना चाहिए कि धर्मशाला का प्रबंधक धूर्त एवं पाखंडी यात्रियों को स्थान देते समय गोप अधिकारी से परामर्श करता है अथवा किसी को भी ठहराने के लिए स्वतंत्र है। नगर निगम अध्यक्ष को यह भी देखना चाहिए कि मोटा तथा महीन काम करने वाले विश्वस्त एवं सुपरिचित कारीगरों को तो कार्यशाला में अथवा व्यापारियों द्वारा बनवाए गए अपने व्यापार स्थलों अथवा दुकानों पर ठहराया जा सकता है परंतु देश-काल के विरुद्ध आचरण करने वालों तथा दूसरे के सामान पर अपना अधिकार जमाने वालों को यह सुविधा कभी नहीं देनी चाहिए। घर में आग लगने पर पहुंचाने की व्यवस्था ना करने वाले गृह स्वामी से 12 पण तथा किराएदार से 6 पण दंड के रूप में वसूल करने चाहिए। किसी मकान को जलाने का प्रयत्न करने वाले व्यक्ति के पकड़े जाने पर उसे मृत्यु दंड देना चाहिए। मध्य रात्रि में रोक लगे एवं अवांछित बगीचों में छिपे और पकड़े गए व्यक्तियों से चोरी-डाके का सामान रखने के संदेह वाले व्यक्तियों से तथा बदमाश व्यक्तियों से पूरी छानबीन करनी चाहिए। संतोषप्रद उत्तर मिलने पर उनके साथ उचित उचित व्यवहार करना चाहिए नेताओं ने बंदी बनाकर दंड करना चाहिए। अधिकरण 2 प्रकरण 35 अर्थशास्त्र ----------------------------------------------------------------------------- 🚀DM us for Promotions🚀 💷 Instagram IDs Follow - @chankya_niti Follow - @ashu_lyricist1 Follow - @ashu_lyricist ------------------------------------------------------------------------- #chankya_niti #lifequotes #lifequotes #Inspirationalquotes #knowledge #photooftheday #motivationalquotes #positivevibes #comment4comment #comment #viral #insta #likefast #likebackfast #millionairemindset #verifyme #followers #followersfree #followersinstagram #likeforfollowers #chankya_niti_quotes #chankyaquotes #250k #Arthshashtra #tbt #trending #photooftheday #photo #photography #life